Haryana Solar Pump Scheme – कुसुम योजना के अंतर्गत करें ऑनलाइन अप्लाई Saral portal पर

किसानों को मिलेंगे सोलर पंप 75 प्रतिशत राशि प्रदान करेगी हरियाणा सरकार, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

हरियाणा सरकार ने राज्य के 8600 किसानो को कृषि के लिए सोलर पंप लगवाने हेतु आर्थिक सहायता प्रदान करने का निर्णय लेते हुए सरल पोर्टल पर आवेदन स्वीकार करने की प्रकिया शुरू कर दी है। सरकार द्वारा किसानो को यह लाभ पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर दिया जाएगा। किसान इस योजना का लाभ लेने के लिए आनलाइन आवेदन कर सकते है। किसानों को सरकार की ओर से सोलर पंप स्थापित करने के लिए 75% राजस्थान सहायता राशि (Subsidy) प्रदान की जाएगी और मात्र 25% की राशि ही किसानों को अपनी ओर से जमा करनी होगी। इस योजना का लाभ लेने हेतु किसानों को जल्द से जल्द आवेदन करना होगा क्योंकि यह योजना एक सीमित संख्या में ही आवेदन को स्वीकार करेगी जिसके पश्चात पोर्टल से आवेदन करने की प्रक्रिया को बंद कर दिया जाएगा।

हरियाणा सोलर पंप सब्सिडी योजना

हरियाणा सरकार ने राज्य के किसानो के हित को देखते हुए उन्हे कृषि के लिए सोलर पंप लगवाने हेतु सहायता देने के लिए नवीन योजना शुरू की है।

इस योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार के नवीन एवं नवीकरण ऊर्जा विभाग द्वारा सरल पोर्टल पर प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत 8600 सोलर पम्प या वाटर पंपिंग सिस्टम लगवाने के लिए 27.12.2021 से नए आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं|

भारत सरकार की योजनाओं से प्रेरणा लेकर राज्य सरकार ने भी अब सौर ऊर्जा के अधिक से अधिक उपयोग पर ध्यान दे रही है और इससे दिशा में अपनी नई योजनाएं लेकर आ रही है खेती में सौर ऊर्जा (Solar Energy) का उपयोग हमारी विद्युत और जहां पर निर्भरता तो कम करेगा जिससे निर्माण के कारण होने वाले प्राकृतिक शोषण और प्रदूषण पर भी हम लगाम लगा सकेंगे सौर ऊर्जा का उपयोग प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान न पहुंचाते हुए उनका बेहतर रूप से प्रयोग करने का एक उदाहरण है।

haryana kusm solar pump yojana online apply

सरकार द्वारा पोर्टल पर 3 एचपी से 10 एचपी सबर्मिसेबिल या मॉनोब्लॉक के लिए आवेदन स्वीकार किए जाएंगे।

हरियाणा सरकार सोलर वाटर पंपिंग स्कीम (Kusum Solar water pump haryana) के तहत किसानों को 75 प्रतिशत अनुदान (Subsidy) प्रदान करेगी तथा शेष 25 प्रतिशत राशि लाभार्थी किसान को आवेदन करते समय ही ऑफलाइन या ऑनलाइन माध्यम से जमा करवानी होगी। सोलर वाटर पंप का आवेदन करने के लिए किसान के पास अपना परिवार पहचान पत्र, जमीन की फर्द, आधार कार्ड का होना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें >  Credit Card Online Apply - नया क्रेडिट कार्ड बनाना चाहते हैं तो ये हैं Top 5 Credit Cards in India

हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार सोलर वाटर पंप पहले आओ पहले पाओ (First come & First serve) के आधार पर ही आवंटित किए जाएंगे। सरकार द्वारा निर्धारित संख्या में आवेदन प्राप्त होने के बाद पोर्टल पर आवेदन स्वीकार होने बंद कर दिए जाएंगे।

क्या है Saral Haryana Solar Water Pump Subsidy योजना का उद्देश्य

हमारे देश के राष्ट्रीय और राज्य सरकारों ने समय-समय पर किसानों के हित में अनेक योजनाओं की घोषणा की है और उन्हें सुचारू रूप से चलाए रखने के लिए सभी प्रयास किए हैं। भारत सरकार और राज्य सरकार जानती हैं कि हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है जिसमें किसानों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए ही विकास संभव है।

राज्य के किसानों की कृषि की गतिविधि को सुचारू रूप से बनाए रखने और एक अच्छी फसल के उत्पादन के लिए प्राप्त करने के लिए कई तरह की समस्याओं से गुजरना पड़ता है और उसमें सबसे महत्वपूर्ण समस्या जिससे किसानों को आए दिन गुजरना पड़ता है वह है पानी की समस्या।

पानी की भरपूर मात्रा खेती की सबसे बड़ी आवश्यकता है

कई बार किसानों को उसकी कमी के कारण अपनी खेती में एक बड़ा नुकसान उठाना पड़ता है। मौसम में होते परिवर्तन के कारण कुछ क्षेत्रों में पर्याप्त बारिश नहीं हो पाती और कुछ क्षेत्रों में जरूरत से ज्यादा बारिश हो जाती है दोनों ही स्थिति में किसानों को अपनी खेती में नुकसान देखना पड़ता है।

यह भी पढ़ें >  PM Laptop Vitaran Yojana झांसे में ना आए, रजिस्ट्रेशन कराना नहीं है खतरे से खाली

हमारे देश में ऐसे कई इलाके हैं जहां शत प्रतिशत रुप से बिजली पहुंचाना एक कठिन काम है ऐसे स्थानों में सौर ऊर्जा से संचालित होने वाले सोलर पंप किसानों को एक नया रास्ता प्रदान करते हैं जिससे वे अपनी खेती के काम को पूरी तरह से संपन्न कर सकें।

प्रदेश सरकार ने किसानों की मूलभूत आवश्यकता को पूरा करने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की है। जिसका उद्देश्य खेतों में सोलर पंप अर्थात सौर ऊर्जा के माध्यम से संचालित होने वाले पंप की स्थापना करना है, जिसके माध्यम से किसान जल स्त्रोतों से पानी खींच कर अपने खेतों में वितरित कर सके और एक अच्छी फसल का उत्पादन कर सके।

सोलर पंप पूर्णता सौर ऊर्जा के माध्यम से संचालित होते हैं और उन्हें किसी प्रकार की बिजली की आवश्यकता नहीं रहती। योजना के तहत वे किसान भी अपने खेतों को पर्याप्त पानी पहुंचा सकते हैं जिनके पास बिजली की व्यवस्था नहीं है या जिन क्षेत्रों में सुचारू रूप से बिजली नहीं पहुंच पाती है। मुख्यमंत्री की इस योजना के तहत किसानों को सोलर पंप स्थापना के लिए 75 प्रतिशत सहायता राशि प्रदान की जाएगी जिसकी सहायता से वे अपने खेतों में सोलर पंप के माध्यम से आसानी से खेती कर सकेगे।

यह योजना उन किसानों के लिए एक वरदान की तरह है जो अपने खेतों में बिजली को स्थापित करने में सक्षम नहीं है और खेती करने के इच्छुक है।

कौन होंगे इस योजना के लाभार्थी

  • ऑफ-ग्रिड क्षेत्रों में, जहां ग्रिड आपूर्ति उपलब्ध नहीं है, मौजूदा डीजल कृषि पंपों / सिंचाई प्रणालियों के प्रतिस्थापन के लिए 10 HP तक क्षमता के स्टैंडअलोन सौर कृषि पंप स्थापित करने के लिए व्यक्तिगत किसानों को सहायता प्रदान की जाएगी।
  • जल उपयोगकर्ता संघों, गौशालाओं और समुदाय/क्लस्टर आधारित सिंचाई प्रणाली को भी शामिल किया जाएगा। हालांकि, छोटे और सीमांत किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी।

आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • परिवार पहचान पत्र
  • आवेदक के नाम पर कृषि भूमि का जमाबन्दी / फर्द
  • खेत में सूक्ष्म सिंचाई पाईपलाईन स्थापित होने का प्रमाण अथवा पम्प लगाने से पहले सूक्ष्म सिंचाई पाईपलाईन स्थापित कर लेने बाबत शपथ पत्र
यह भी पढ़ें >  मोबाइल नंबर की सही लोकेशन ऑनलाइन कैसे पता करें

Haryana Kusum सोलर वाटर पंप Yojana के लिए पात्रता

  • आवेदक किसान के नाम पर कृषि भूमि होना चाहिए
  • आवेदक के नाम पर कोई विद्युत कृषि कनेक्शन नहीं होना चाहिए
  • जो किसान पहले से ही सोलर पंप योजना का लाभ ले रहे है वे एक और सौर जल पंपिंग प्रणाली प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं है (उनकी क्षमता/स्थान की परवाह किए बिना)
  • आवेदक के पास परिवार पहचान पत्र होना अनिवार्य है
  • आवेदक के पास अपने खेत में सूक्ष्म सिंचाई (ड्रिप/स्प्रिंकलर) और/या अंडर ग्राउंड पाइप लाइन्स (यूजीपीएल) होनी चाहिए।
  • किसान, गऊशाला, जल उपयोक्ता संगठन व समुदाय / समूह आधारित सिंचाई समूह आवेदन के लिए पात्र है।

Solar Water Pump Apply – कुसुम योजना हरियाणा ऑनलाइन आवेदन फॉर्म 2021-22 ऐसे भरें

  • सबसे पहले हरियाणा सरकार के सरल पोर्टल पर जाएं saralharyana.gov.in
  • यदि आप पोर्टल पर पहले से पंजीकृत हैं तो पृष्ठ पर पहुंचने के बाद अब अपना लॉगइन आईडी और पासवर्ड डालकर लॉगइन करें अथवा न्यू यूजर ऑप्शन के माध्यम से नया पंजीकरण करें
saral haryana login
  • लाॅगिन करने के बाद होम पेज पर मौजूद ऑप्शन “अप्लाई फार सर्विसेस” पर क्लिक करें
  • अब आप सर्च बार में सोलर पंप सर्च करें और “सोलर पंप सोलर वाटर पंपिंग स्कीम” के लिए आवेदन के आप्शन का चयन करें
saral haryana dashboard
  • अब स्व प्रमाणित पत्र यानि डिक्लेरेशन फॉर्म डाऊनलोड करे और उसमें माँगी गई जानकारी भरकर, अपने हस्ताक्षर करके उसे स्केन करके पीडीएफ फाइल के रूप में सेव कर ले
kusum haryana apply
declaration form
  • अब अपना फैमिली आईडी डालकर लॉगिन करे और OTP के माध्यम से वेरीफाई करे
verify otp
  • अब अगले पृष्ठ पर अपनी निजी जानकारी, भूमि की जानकारी, बैंक डिटेल आदि डालकर पूछे गए सवालों को स्वीकार करके वेरिफिकेशन कोड डालकर प्रकिया पूरी करे
haryana solar water pump online apply
हरियाणा कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन
  • अब अगले पृष्ठ पर माँगे गए दस्तावेज संलग्न करे और वेरिफिकेशन कोड डालकर प्रकिया पूरी करे
सोलर वाटर पंप योजना हरयाणा

इस प्रकार प्रदेश सरकार के सरल पोर्टल के माध्यम से किसान नागरिक आसानी से ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी करके इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Leave a Comment