प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना PMKSY Krishi Sinchai Scheme

  • Post comments:0 Comments

₹5000 रुपयों की राशि खर्च करेगी सरकार, कृषि उपकरण की खरीदी हेतु किसानों को मिलेगी आर्थिक सहायता

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत किसानों को कृषि उपकरण की खरीदी हेतु सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी | इस योजना की शुरुआत वर्ष 2015 में की गई थी जिसे सरकार के नए निर्णय द्वारा वर्ष 2026 तक विस्तारित कर दिया गया है अतः किसान नागरिक योजना का लाभ लेने हेतु PMKSYके अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

PMKSY- प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना क्या है

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा किसानो को लाभ पहुंचाने के लिए की गयी है। इस योजना के अंतर्गत देश के किसानो को अपने खेतो की सिचाई के लिए उपकरणों के लिए सब्सिडी प्रदान की जाएगी। यह सब्सिडी किसानों को उन सभी योजनाओं के लिए भी प्रदान की जायेगी जिसमे पानी की बचत, कम महनत और साथ ही धन की भी सही तरह से बचत हो सकेगी जिससे किसानों को अपने खेतो में सिंचाई करने में सुविधा होगी। इस योजना को वर्ष 2026 तक विस्तार दिया जाएगा।

जैसे की आप लोग जानते है कि हमारे जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए अन्य की कितनी महत्वता है अन्य के उत्पादन के लिए कृषि सबसे ज़रुरी है और कृषि तभी बेहतर होगी जब सिंचाई अच्छे से की जाएगी। खेतों में सिंचाई के लिए जल की आवश्यकता होती है। अगर फसलों को अच्छे से पानी नहीं मिलेगा तो किसानो को खेती में नुकसान होगा।

इस Krishi Sinchai Yojana के तहत किसानो की इस समस्या को दूर किया जायेगा और किसानो को खेती के लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी। इस योजना के तहत सेल्फ हेल्प ग्रुप्स, ट्रस्ट, सहकारी समिति, इंकॉर्पोरेटेड कंपनियां, उत्पादक कृषकों के समूहों के सदस्यो और अन्य पात्रता प्राप्त संस्थानों के सदस्यों को भी लाभ प्रदान किया जायेगा। केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत 50000 करोड़ रूपये की धनराशि निर्धारित की है ।

वर्ष 2026 तक रहेगी सिंचाई योजना

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को वर्ष 2026 तक निरंतर सुचारू रूप से चलाया जाएगा

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 5 वर्ष तक विस्तृत करके 2026 तक संचालित करने का निर्णय लिया गया है। जिस पर कुल खर्च 93068 करोड़ रुपए आने का अनुमान है। यह निर्णय आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति की बैठक में लिया गया। जिसके अध्यक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थे। इस निर्णय की जानकारी केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत द्वारा प्रदान की गई। इस योजना के विस्तार से लगभग 22 लाख किसानों को लाभ पहुंचेगा जिसमें से 2.5 लाख अनुसूचित जाति एवं 2 लाख अनुसूचित जनजाति वर्ग से होंगे।

इस योजना पर 93068 करोड़ रुपए के खर्च आने का अनुमान लगाया जा रहा है। जिसमें से 37454 करोड़ रुपए की सहायता केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत ड्रिप प्लांट लगाने पर 70% सब्सिडी की राशि बागवानी किसानों को प्रदान की जाएगी एवं 50% सब्सिडी की राशि सीमांत किसानों को प्रदान की जाएगी। इस बात की जानकारी डिप्टी डायरेक्टर डॉ के एन सिंह द्वारा प्रदान की गई। इसके अलावा फाउंटेन प्लांट की खरीद पर 60% की सब्सिडी छोटे और सीमांत किसानों को प्रदान की जाएगी एवं 50% की सब्सिडी अन्य किसानों को प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

आवेदन पत्र भरने के लिए जमाबंदी, ट्रेस माप, प्लांट कोटेशन, सॉइल वॉटर टेस्ट रिपोर्ट, बिजली का बिल, आधार कार्ड आदि होना अनिवार्य है। इस योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर प्रदान किया जाएगा।

क्या है कृषि सिंचाई योजना का उद्देश्य

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को केंद्र सरकार द्वारा आरंभ किया गया है। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य सिंचाई उपकरण खरीदने पर सब्सिडी मुहैया कराना है जिससे कि खेतों की सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध हो सके। यह योजना किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए भी कारगर साबित होगी। इस योजना को देश के विभिन्न जिलों में होने वाली पानी की कमी को ध्यान में रखते हुए आरंभ किया गया है। जिससे की फसल की गुणवत्ता सुनिश्चित की जा सके। योजना के माध्यम से सरकार द्वारा सभी खेतों को पानी मुहैया कराया जाएगा। जिसके लिए विकास एवं जल प्रबंधन मंत्रालय द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस वित्तीय सहायता का उपयोग करके किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी जिससे कि उनके खेतों तक पानी पहुंच सके। अब इस योजना के माध्यम से खेती करने के लिए किसानों को पानी की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

PM Krishi Sinchai Scheme 2022 – जानें क्या हैं लाभ

  1. इस योजना के तहत देश खेती करने वाले किसानो को अपने खेतो में सिचाई के लिए उचित मात्रा में पानी उपलब्ध करना और सिचाई उपकरणों के लिए सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  2. पानी की इसी कमी को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत की गई है। जिससे किसानों को सिंचाई करने में सुविधा होगी ।
  3. जो ज़मीन कृषि के योग्य होगी उस ज़मीन तक इस योजना को पहुँचाया जाएगा।
  4. इस योजना का लाभ देश के उन किसानो को पहुंचाया जायेगा जिनके पास अपनी खुद की कृषि योग्य भूमि होगी और जल संसाधन होगा। योजना के माध्यम से कृषि में विस्तार होगा, उत्पादकता में वृद्धि होगी जिससे अर्थव्यवस्था का पूर्ण विकास होगा।
  5. योजना के लिए केंद्र द्वारा 75% अनुदान दिया जाएगा और 25% जो खर्चा रहेगा वह राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा।
  6. इससे ड्रिप/ स्प्रिंकलर जैसी सिंचाई योजना का फायदा भी किसानों को प्राप्त होता है।
  7. नये उपकरणों की प्रणाली के इस्तेमाल से 40-50 प्रतिशत पानी की बचत हो पायेगी और उसके साथ ही 35-40 प्रतिशत कृषि उत्पादन में बढ़ोतरी एवं उपज के गुणवत्ता में तेज़ी आएगी।

पीएम कृषि सिंचाई योजना के लिए पात्रता

इस योजना इस योजना के पात्र देश के सभी वर्ग के वे सभी किसान होंगे इनके पास कृषि हेतु अपनी स्वयं की भूमि है।

योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  1. आवेदक का आधार कार्ड
  2. पहचान पत्र
  3. किसानो की ज़मीन के कागज़ात
  4. जमीन की जमा बंदी (खेत कि नकल)
  5. बैंक अकाउंट पासबुक
  6. पासपोर्ट साइज फोटो
  7. मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2022 के लिए किस प्रकार करें आवेदन, PMKSY Apply

योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा बनाए गए आधिकारिक पोर्टल पर किसान नागरिक ऑनलाइन आवेदन जमा कर सकते हैं इसके अतिरिक्त प्रदेश सरकार के कृषि विभाग की वेबसाइट पर इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है।

उदाहरण के तौर पर हम बिहार सरकार के आधिकारिक पोर्टल पर उपस्थित प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की सेवा के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया बता रहे हैं

  • सबसे पहले आधिकारिक पोर्टल पर लॉगिन करें यदि आप का पोर्टल पर पंजीकरण यह रजिस्ट्रेशन नहीं है तो पहले रजिस्ट्रेशन करके फिर लॉगिन करें
word image 8
  • अब हम पृष्ठ पर दिए गए PMKSY ऑप्शन पर क्लिक करें और फिर ऑनलाइन आवेदन के ऑप्शन पर क्लिक करें
krishi sinchai bihar
  • आप अपना पंजीयन क्रमांक दर्ज करें
word image 10
  • पोर्टल पर मांगी गई जानकारियों को दर्ज करें जैसे कि अपनी निजी जानकारी, कृषि भूमि से संबंधित जानकारी, जिस उपकरण को खरीदना चाहते हैं उस उपकरण की जानकारी, आप सब्सिडी स्वयं व्यय करना चाहते हैं या किसी कंपनी के माध्यम से उपकरण को खरीदना चाहते हैं आदि सभी जानकारी दर्ज करके सबमिट ऑप्शन पर क्लिक करें
word image 11
  • अब आपके ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी आप आवेदन पत्र का प्रिंट लेकर रख सकते हैं आवेदन स्वीकार होने की स्थिति में आपको सरकार द्वारा निर्धारित स्थान से उपकरण प्राप्त करने होंगे।

इस प्रकार ऑनलाइन आवेदन करके किसान नागरिक प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ ले सकते हैं और अपनी खेती में आने वाली सिंचाई संबंधित समस्याओं का निराकरण कर सकते हैं।

Leave a Reply