Friday, October 15, 2021
Home > news > 45 साल की उम्र तक 5 करोड़ की चाहिए सेविंग, जानिए SIP में कितना करना होगा निवेश | How much invest in sip to accumulate 5 crore rupees at the age of 45 year after retirement
news

45 साल की उम्र तक 5 करोड़ की चाहिए सेविंग, जानिए SIP में कितना करना होगा निवेश | How much invest in sip to accumulate 5 crore rupees at the age of 45 year after retirement

mutual fund

[ad_1]

Mutual Fund: हर महीने ईएमआई चुकाने के बाद जो बचता है, उसका ज्यादा हिस्सा इक्विटी या म्यूचुअल फंड में लगाएं तो 5 करोड़ का टार्गेट पाया जा सकता है. मौजूदा म्यूचुअल फंड में हर साल 16 परसेंट का इजाफा कर दें तो 45 साल आते-आते 5 करोड़ रुपये जमा हो सकते हैं.

म्यूचुअल फंड के फायदे

निवेश के लिए लोग क्या-क्या तरीके अपनाते हैं. बच्चे गुल्लक में पैसे डालते हैं तो युवा सेविंग से लेकर म्यूचुअल फंड और शेयर में पैसे लगाते हैं. बुजुर्ग लोग अपने खर्चों को देखते हुए पीपीएफ, सेविंग और एफडी में निवेश करते हैं. सबका यही खयाल होता है कि रिटायर होते-होते या उम्र की ढलान पर इतना पैसा जुड़ जाए कि बाद की जिंदगी मजे में कटेगा. इसे देखते हुए आजकल म्यूचुअल फंड का चलन काफी तेज है. बाजार के जोखिम बहुत ज्यादा न हों तो कुछ-कुछ पैसे जोड़कर अंत में बड़ा फंड जुटा सकते हैं. इसके लिए एसआईपी में निवेश करना होता है जिसमें 500 रुपये से भी निवेश कर सकते हैं.

एक ऐसे ही निवेशक हैं जिनकी उम्र 32 साल है वे 24 साल की उम्र से निवेश कर रहे हैं. आज की तारीख में उनके पास म्यूचुअल फंड और इक्विटी फंड में 18 लाख का फंड जमा है. उन्होंने अलग-अलग 9 म्यूचुअल फंड में पैसा लगाया है जिसमें आदित्य बिरला लॉन्ग टर्म ग्रोथ, एक्सिस लॉन्ग टर्म इक्विटी, फ्रैंकलिन टेंपलटन स्मॉल कैप जैसे फंड हैं. ये सभी फंड 11-17 परसेंट के हिसाब से रिटर्न दे रहे हैं. इनकी टेक होम सैलरी 1,10,000 रुपये है. इनके पास अभी तक कोई एसआईपी नहीं है लेकिन अब ये अपने पोर्टफोलियो में बदलाव करना चाहते हैं और एसआईपी लेना चाहते हैं. इनका लक्ष्य है कि 45 साल आते-आते 5 करोड़ रुपये जमा कर लें जबकि कर्ज के नाम पर कोई देनदारी न हो.

कितनी है कमाई

यहां 45 साल का जिक्र किया गया है जिससे साफ है कि यह व्यक्ति जल्द रिटायर होना चाहते हैं और उसके बाद जमा राशि से जिंदगी चलाना चाहते हैं. जिन लोगों को जल्द रिटायर होने की इच्छा होती है, वे शुरू में ही ज्यादा निवेश करने लगते हैं या इसकी शुरुआत धीरे-धीरे कर देते हैं. 45 साल के बाद उनकी जमा राशि कहां तक पहुंचेगी इसे जानने के लिए ब्याज दर के हिसाब से आंकड़ा लगा सकते हैं.

अभी वे जितना निवेश कर रहे हैं उस हिसाब से अगर 10 परसेंट ब्याज की कमाई से देखें तो 45 साल पर 62 लाख रुपये होगी. 12 परसेंट ब्याज के साथ 78.50 लाख रुपये का फंड इकट्ठा हो सकता है. इसके बाद अगर 5 करोड़ रुपये तक जमा राशि जुटानी है तो अभी से हर महीने 1.41 लाख रुपये जमा करने होंगे. 12 परसेंट ब्याज के हिसाब से यही राशि 1.17 लाख रुपये होगी.

कितना करना होगा जमा

अभी इस व्यक्ति को हर महीने 25 हजार रुपये ईएमआई में देना पड़ रहा है. इनकी सैलरी 1,10,000 रुपये है, उस हिसाब से ईएमआई देने के बाद 85 हजार रुपये हाथ में बचेंगे. इसी पैसे में से घर आदि के खर्चे निकालने होंगे. घर के खर्च के मद में 25-30 परसेंट पैसे निकाल दें तो इनके पास 60 हजार रुपये बचेंगे. अगर इस राशि को इक्विटी या इक्विटी म्यूचुअल फंड में लगाएं तो 45 साल आते-आते 10 परसेंट के हिसाब से 1.85 करोड़ और 12 परसेंट के हिसाब से 2.14 करोड़ रुपये जुट पाएंगे. अभी मौजूदा निवेश को उसमें जोड़ दें तो 45 साल आते-आते यह राशि 2.5 या 3 करोड़ रुपये हो सकती है.

SIP में कितना निवेश बढ़ाएं

इस स्थिति में या तो रिटायरमेंट की उम्र 45 साल से और आगे बढ़ाएं या हर महीने निवेश की राशि बढ़ाएं तभी 5 करोड़ का फंड जमा हो सकेगा. हर महीने ईएमआई चुकाने के बाद जो बचता है, उसका ज्यादा हिस्सा इक्विटी या म्यूचुअल फंड में लगाएं तो 5 करोड़ का टार्गेट पाया जा सकता है. मौजूदा म्यूचुअल फंड में हर साल 16 परसेंट का इजाफा कर दें तो 45 साल आते-आते 5 करोड़ रुपये जमा हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें: इस क्रिप्टोकरंसी में एक दिन में आया 4 करोड़ परसेंट का उछाल, चंद घंटों में हुई 59 अरब डॉलर की ट्रेडिंग!

[ad_2]

Vertika
http://views24hours.com
Vertika is the lead writer on views24hours.com. With experience from top news agencies, she knows all about writing and explaining the stuff to readers. Keep reading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *