Policy Holder कैसे कर पाएंगे LIC IPO के लिए Online Apply, आईये जानें

LIC IPO/ एलआईसी आईपीओ के लिये केंद्र सरकार ने बाज़ार नियामक सेबी के समक्ष आवेदन दाखिल किया है, उम्मीद हैं कि जीवन बीमा निगम/ Life Insurance Corporation की 5 फीसदी हिस्सेदारी बेची जाए। LIC IPO में कंपनी के पॉलिसी धारकों के लिये 10 फीसदी हिस्सा आरक्षित होगा और उन्हें छूट भी दी जाएगी। सरकार का लक्ष्य मार्च तक जीवन बीमा निगम/LIC को शेयर बाजारों में सूचीबद्ध करना है।

एलआईसी का परिचय:

एलआईसी अर्थात लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (भारतीय जीवन बीमा निगम) देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है। सार्वजनिक क्षेत्र की यह कंपनी आम जनता को जीवन बीमा पॉलिसियों अन्य प्रकार की विभिन्न पॉलिसिया जैसे कि जीवन आनंद, जीवन उमंग, जीवन अमर आदि प्रदान करती हैं।

LIC IPO क्या है?

जीवन बीमा निगम या LIC भारत में एकमात्र सरकारी बीमा कंपनी हैं, इसकी स्थापना 1956 में हुई थी। उस वक़्त देश में तकरीबन 245 इंश्योरेंस कंपनियां थी जिन सबको एकसाथ मिलाते हुए एलआईसी की स्थापना की गयी। अब LIC दुसरे दौर में जा रही हैं और उसकी कुछ हिस्सेदारी बेची जाएगी। इसके लिये बहुत जल्दी IPO आने वाला हैं।IPO से आशय है इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग(Initial Public Offering)। एक कंपनी जब अपने सामान्य स्टॉक या शेयर को पहली बार जनता के लिए जारी करता है तो उसे आईपीओ कहते हैं। एक फर्म के आईपीओ जारी करने के दो मुख्य उद्देश्य होते हैं पूंजी जुटाना और पूर्व निवेशकों को समृद्ध बनाना।

LIC IPO के अंतर्गत Online Apply के लिये पॉलिसी होल्डर से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य:

Policy PAN लिंक होना जरुरी-

LIC के प्रस्तावित इश्यू प्लान के मुताबिक IPO इश्यू साइज़ का 10 फीसदी तक हिस्सा पॉलिसी धारकों और एलआईसी कर्मचारियों के लिये reserved रहेगा, LIC Policy HolderLIC Worker को यह सुनिश्चित करना होगा कि LIC के रिकॉर्ड में उनकी PAN (Permanent Account Number) detail Update हैं। LIC ने कहा हैं की IPO में हिस्सा लेने के लिये पॉलिसी धारक चेक कर ले कि रिकॉर्ड में दिये पेन की जानकारी सही है या नहीं, अगर सही नहीं हैं तो वह पैन कार्ड की जानकारी अपडेट कर ले। आईपीओ में निवेश के लिए पॉलिसी का पैन कार्ड से लिंक होना जरूरी है।

यह भी पढ़ें >  NDHM पोर्टल पर REGISTRATION कैसे करें, और ABHA(Aayushman Bharat Health Account) कैसे बनाएं

डीमैट अकाउंट/Demat account है जरूरी-

डीमैट खाता या डी-मेटरियलाइजड खाता इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में शेयरों (share) और प्रतिभूतियों (security deposit) को रखने की सुविधा प्रदान करता है। ऑनलाइन ट्रेंडिंग के दौरान शेयरों को डीमैट खाते में खरीदा और रखा जाता है। इस प्रकार उपयोगकर्ताओं के लिए आसान व्यापार की सुविधा होती है।

एलआईसी आईपीओ के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक का डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है। इसके बिना आवेदक एलआईसी आईपीओ के लिए आवेदन नहीं कर सकता।

पॉलिसी से पैन लिंक (PAN_ LIC Policy link) कराने का तरीका:

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
LIC IPO Online Apply
  • आप अपना मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी या पॉलिसी नंबर डाल कर लॉगिन करें
एलआईसी आईपीओ ऑनलाइन आवेदन
  • लॉग इन करने के बाद आपको ऊपर की तरफ पान कार्ड अपडेट या लिंक करने हेतु मैसेज दिखाई देगा। जिसमें दी गई लिंक पर क्लिक करें और बताई गई प्रक्रिया के अनुसार PAN Card अपनी पॉलिसी से अटैच करें
एलआईसी आईपीओ  ऑनलाइन आवेदन
  • एलआईसी के आधिकारिक वेबसाइट के होम पृष्ठ पर नीचे की ओर दिए गए ऑनलाइन पेन रजिस्ट्रेशन विकल्प के अंतर्गत क्लिक हियर ऑप्शन के माध्यम से भी आप यह प्रक्रिया कर सकते हैं।
एलआईसी आईपीओ ऑनलाइन आवेदन

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न:

1) एलआईसी आईपीओ के अंतर्गत पॉलिसी धारकों को क्या फायदा है?

2)LIC IPO के लिए क्या पात्रता आवश्यक है?

उ-1) आवेदक का एलआईसी में खाता होना आवश्यक है।
2) पॉलिसी का पैन कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है।
3) आवेदक का डिमैट अकाउंट होना आवश्यक है।

यह भी पढ़ें >  जानें प्रधानमंत्री ज्ञानवीर योजना का सच  - क्या सच में मिलेंगे रुपये 3400

3) डीमैट अकाउंट/Demat account क्या होता है?

उ- डीमैट खाता इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में शेयरों एवं प्रतिभूतियों को रखने की सुविधा प्रदान करता है।

Leave a Comment