UP में जमीन की रजिस्ट्री ऑनलाइन चेक ऐसे करें – UP Jameen Registry Check

उत्तर प्रदेश राज्य में राज्य के नागरिक स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग (Stamp & Registration Department) के आधिकारिक पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन यूपी जमीन की रजिस्ट्री चेक कर सकते हैं।

UP में कैसे चेक करे आनलाइन जमीन की रजिस्ट्री

हमारे देश में मुख्यत: सभी राज्यों में जमीनी विवादों से निपटने हेतु सरकार ने जमीन से जुड़े सभी दस्तावेजों को ऑनलाइन नागरिकों हेतु उपलब्ध करवा दिया है जिससे कि नागरिक किसी भी समय अपनी जमीन से जुड़े दस्तावेजों को देख सकते हैं। UP Online Land Record होने से सभी प्रकार की धोखाधड़ी से बचा जा सकता है और जानकारियों की तत्कालीन जांच की जा सकती है। विभागों को भी अपना कार्य करने में सहायता मिलती हैं और विभाग के कर्मचारी पूरी पारदर्शिता के साथ नागरिकों को विभिन्न प्रकार की सेवाएं उपलब्ध करवा सकते हैं।

शासकीय सेवाओं के ऑनलाइन पोर्टल उपलब्ध होने के कारण नागरिक स्वयं अपने और से कई प्रकार के कार्य स्वयं ही कर लेते हैं जिसके लिए उन्हें पूर्व में विभिन्न प्रकार के दफ्तरों में जाकर अनेक प्रकार के कागजात तैयार करवाने पड़ते थे। जिसमें नागरिक और कर्मचारी दोनों का ही समय अधिक खर्च होता था। ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से नागरिकों के समय व  पैसा दोनों की बचत होती है साथ ही बिना किसी कागजात के होने वाले ऑनलाइन प्रक्रिया में कागजों का उपयोग ना करते हुए हम पर्यावरण संरक्षण में भी अपना योगदान दे पाते हैं। ऑनलाइन रिकॉर्ड होने के कारण इसके गुम होने, चोरी होने, गलने या अन्य किसी प्रकार से खराब होने की संभावनाएं भी खत्म हो जाती हैं। अतः ऑनलाइन जमीनी दस्तावेज तैयार करने, संरक्षित करने और ऑनलाइन प्रक्रियाओं से नागरिकों को विभिन्न सेवाएं देने का सरकार का निर्णय सभी रूप से लाभकारी है।

जमीन के रिकॉर्ड ऑनलाइन होने के फायदे: 

यु पी ऑनलाइन लैंड रिकॉर्ड उपलब्ध होने के निम्नलिखित फायदे हैं-

  • नागरिकों हेतु हर समय रिकॉर्ड देखने की सुविधा 
  • प्रत्येक जिले का रिकॉर्ड एक स्थान पर उपलब्ध होना 
  • कम समय में अधिक काम करने की आसानी 
  • कम से कम शासकीय कर्मचारियों की आवश्यकता 
  • जल्द से जल्द शिकायतों और अन्य प्रक्रियाओं का निदान

यूपी ऑनलाइन रजिस्ट्री चेक करने की प्रक्रिया:

यूपी राज्य में ऑनलाइन जमीन की रजिस्ट्री चेक करने हेतु 

  • सबसे पहले Stamp & Registration Department Uttar Pradesh के आधिकारिक पोर्टल पर जाएं या नीचे दी गई लिंक का उपयोग करें

https://igrsup.gov.in/igrsup/defaultAction.action

  • अब होम पृष्ठ पर संपत्ति खोजें विकल्प पर क्लिक करें
UP Online Land Record
  • इसके बाद अगले पेज पर पांच विभिन्न प्रकार के विकल्प उपलब्ध होंगे जो कि इस प्रकार है:
  1. संपत्ति का पता 5 दिसंबर 2017 से पूर्व पंजीकृत विलेखो के विवरण 
  2. संपत्ति का पता 5 दिसंबर 2017 व उसके बाद पंजीकृत विलेखो के विवरण 
  3. पंजीकरण संख्या एवं पंजीकरण दिनांक/पंजीकरण वर्ष 
  4. क्रेता का नाम 5 दिसंबर 2017 से पूर्व पंजीकृत विलेखो के विवरण
  5. विक्रेता का नाम 5 दिसंबर 2017 से पूर्व पंजीकृत विलेखो के विवरण
  6. क्रेता का नाम 5 दिसंबर 2017 से पूर्व पंजीकृत विलेखो के विवरण
Stamp & Registration Department Uttar Pradesh
  • अब अपनी सुविधानुसार किसी एक का चयन करें
  • अगले स्क्रीन पर मांगी गई जानकारियां जैसे कि क्रेता का नाम या विक्रेता का नाम या संपत्ति का पता, तहसील, मोहल्ला आदि जानकारियां दर्ज कर कैप्चा कोड अंकित करें और विवरण देखें विकल्प पर क्लिक करें
यु पी ऑनलाइन लैंड रिकॉर्ड
  • अब आपके सामने जमीन से जुड़ी जानकारियां खुल जाएगी जिसमें दो और विकल्प दिखाई देंगे पूर्ण विवरण देखे विकल्प तथा  स्कैन्ड लेखपत्र देखे
ऑनलाइन यूपी जमीन की रजिस्ट्री चेक
  • आप जमीन की रजिस्ट्री से संबंधित सारी जानकारी आनलाइन माध्यम से देख सकते हैं रजिस्ट्री के प्रति और अन्य दस्तावेजों को डाउनलोड भी कर सकते हैं।
स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग उत्तर प्रदेश

इस प्रकार आप ऑनलाइन स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग उत्तर प्रदेश की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन जमीन की रजिस्ट्री चेक कर सकते हैं और अपनी प्रति भी डाउनलोड कर सकते हैं।

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न:

1- क्रेता और विक्रेता से क्या आशय है?

उ-जमीन खरीदने वाले को क्रेता और बेचने वाले को विक्रेता कहा गया है।

2-ऑनलाइन जमीन की रजिस्ट्री कौन से पोर्टल पर उपलब्ध है?

उ-उत्तर प्रदेश सरकार के स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग के आधिकारिक पोर्टल पर ऑनलाइन जमीन की रजिस्ट्री उपलब्ध है।

3-स्कैंडल लेखपत्र विकल्प का क्या उपयोग है?

उ-इस विकल्प के माध्यम से आप आपकी जमीन से जुड़े दस्तावेजों की नकल देख सकते हैं और डाउनलोड कर सकते हैं।

Leave a Comment