Thursday, October 14, 2021
Home > news > SBI ने खाते में मिनिमम बैलेंस को लेकर बताया नया ‘नियम’, जानिए इसके बारे में सबकुछ | Sbi new rule about minimum balance or AMB and massage charges for all saving bank account
news

SBI ने खाते में मिनिमम बैलेंस को लेकर बताया नया ‘नियम’, जानिए इसके बारे में सबकुछ | Sbi new rule about minimum balance or AMB and massage charges for all saving bank account

pjimage 2021 06 26T154640.089 1

[ad_1]

SBI ने एक ट्वीट में लिखा है, कृपया ध्यान दें कि मिनिमम बैलेंस और संदेश का शुल्क (massage charge) जिस तिथि से नहीं लगने की बैंक ने घोषणा की है, उस तिथि से पहले अगर आपका कोई शुल्क देय है तो उसका भुगतान करना होगा.

अगर पहले से मिनिमम बैलेंस का कोई चार्ज बाकी है तो उसे चुकाना जरूरी है (सांकेतिक तस्वीर)

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने खाते में न्यूनतम राशि (minimum balance) को लेकर एक नई जानकारी दी है. इसमें बताया गया है कि ग्राहक को मिनिमम बैलेंस कब से चुकाना होगा. स्टेट बैंक ने मैसेज चार्ज के बारे में भी बताया है. बैंक के मुताबिक, जिस तारीख से मैसेज चार्ज फ्री किया गया है, उस तारीख के बाद से कोई शुल्क नहीं लगेगा. लेकिन उस तारीख से पहले किसी ने मिनिमम बैलेंस नहीं बनाए रखा है, तो उसकी अदायगी करनी होगी.

SBI ने एक ट्वीट में लिखा है, ‘कृपया ध्यान दें कि मिनिमम बैलेंस और संदेश का शुल्क (massage charge) जिस तिथि से नहीं लगने की बैंक ने घोषणा की है, उस तिथि से पहले अगर आपका कोई शुल्क देय है तो उसका भुगतान करना होगा’. इस ट्वीट के माध्यम से स्टेट बैंक ने ग्राहकों को बताया है कि अगर निश्चित तारीख से पहले अगर खाते में मिनिमम शुल्क नहीं रखा गया है और इस मद में बैंक की कोई अदायगी बनती है, तो उसे चुकाना होगा. इसका अर्थ हुआ कि ग्राहक को यह ध्यान रखना है कि उसका मिनिमम बैलेंस पहले से पेंडिंग नहीं है. अगर है तो उसे समय पर चुका देना चाहिए.

क्या कहा SBI ने

बैंक में मिनिम बैलेंस को तकनीकी भाषा में एवरेज मंथली बैलेंस या AMB कहते हैं. देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने पिछले साल ऐलान किया था कि सभी सेविंग बैंक खाते पर एवरेज मिनिमम बैलेंस को माफ कर दिया गया है. नियम के मुताबिक मेट्रो शहरों में एसबीआई सेविंग खाते पर एएमबी 3,000 रुपये, अर्ध शहरी क्षेत्रों में एएमबी 2,000 रुपये और ग्रामीण क्षेत्रों की एसबीआई शाखा में सेविंग अकाउंट पर एएमबी 1,000 रुपये रखी गई थी. बैंक ने इस राशि को बनाए रखने के नियम को हटा दिया था. मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर 5-15 रुपये प्लस जीएसटी जोड़कर वसूला जाता था. इसी के साथ स्टेट बैंक ने एसएमएस चार्ज भी माफ कर दिया था.

आइए इससे जुड़े कुछ सवाल-जवाब जानते हैं

1-सेविंग बैंक अकाउंट में कितना मिनिमम बैलेंस रखना जरूरी है

11 मार्च, 2020 को स्टेट बैंक ने ऐलान किया था कि एवरेज मंथली बैलेंस या AMB को माफ किया जा रहा है. इसका अर्थ हुआ कि अगर कोई ग्राहक खाते में मिनिमम बैलेंस नहीं रखता है तो उसे कोई जुर्माना नहीं देना होगा.

2- कोई ग्राहक ऑनलाइन एसबीआई अकाउंट खोल सकता है

हां, एसबीआई डिजिटल सेविंग्स अकाउंट के जरिये ऑनलाइन खाता खोल सकते हैं. हालांकि यह याद रखना चाहिए कि इसके लिए भी ग्राहक को कम से कम एक बार ब्रांच आने की जरूरत होगी.

3-SBI में जीरो बैलेंस अकाउंट कैसे खोल सकते हैं

इसके लिए आपको एसबीआई बेसिक सेविंग बैंक अकाउंट खोलना होगा. वह जीरो बैलेंस के साथ मिलता है.

4-क्या कोई ग्राहक एसबीआई में एक से ज्यादा सेविंग अकाउंट रख सकता है?

कोई भी ग्राहक एक कस्टमर आईडी के साथ एसबीआई में अलग-अलग तरह का अकाउंट खोल सकता है. लेकिन एक ही कस्टमर आईडी से सभी अकाउंट को इंटरलिंक करना होगा.

5-क्या एसबीआई में खाता खोलने के लिए आधार की जरूरत होगी?

नहीं, खाता खोलने के लिए आधार नंबर देना अनिवार्य नहीं है. यह नियम देश के सभी बैंकों पर अप्लाई होते हैं.

6-एसबीआई अकाउंट बैलेंस कैसे चेक कर सकते हैं?

एसबीआई SBI में बैलेंस चेक करने के लिए अपने रजिस्टर्ड नंबर से 09223766666 पर BAL लिख कर मैसेज भेजना होगा. इसके बाद आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर मिनि स्टेटमेंट और इससे जुड़ी अन्य जानकारियां मिलेंगी.

ये भी पढ़ें: Income Tax: इनकम टैक्स के ये 2 फॉर्म सब्मिट करने की समय-सीमा बढ़ी, जानिए नई डेडलाइन



[ad_2]

Vertika
http://views24hours.com
Vertika is the lead writer on views24hours.com. With experience from top news agencies, she knows all about writing and explaining the stuff to readers. Keep reading

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *