क्या है विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, जानें पात्रता की शर्तें, लाभ और  Online Application Form भरने की प्रक्रिया अभी करें अप्लाई

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा राज्य के मजदूरों के विकास एवं स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए की गई है। Vishwakarma Shram Samman Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के पारंपरिक कारीगरों व दस्तकारों को अपने हुनर को और निखारने के लिए 6 दिन की फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी। योजना का सारा खर्च राज्य सरकार द्वारा उठाया जाएगा। राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं इस योजना के ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर Online Application Form भर सकते हैं।

Vishwakarma Shram Samman Yojana क्या है?

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई एक ऐसी योजना है जो राज्य के दस्तकारों / कामगारों / कारीगरों के लिए शुरू की गई है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के सभी कारीगरों को (दर्जी, कढ़ाई और बुनाई, ट्रैक्टर या अन्य किसी वाहन को रिपेयर करने वाले मैकेनिक, सुनार, बढ़ई, राजमिस्त्री) छह दिवसीय निशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा और उसके बाद उनके काम से संबंधित फ्री टूल किट/ Free Tool Kit दी जाएगी। साथ ही जो कारीगर अपना स्वरोजगार या किसी प्रकार का उद्योग लगाने के इच्छुक हैं उन्हें स्वरोजगार शुरू करने हेतु ₹10000 से लेकर 1000000 रुपए तक की आर्थिक मदद भी दी जाएगी।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में ऑनलाइन आवेदन हेतु आवश्यक पात्रता/ शर्तें:

  • आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक ने  पिछले 2 वर्ष में राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा टूल किट संबंधित लाभ ना लिया हो।
  • सभी आवेदकों को योजना की पात्रता को पूर्ण करने के संबंध में एक शपथ पत्र प्रस्तुत करना होगा।
  • परिवार का कोई भी सदस्य केवल एक बार ही इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • परंपरागत कारीगरी करने वाली जाति से भिन्न व्यक्ति भी आवेदन कर सकता है।
यह भी पढ़ें >  सुकन्या समृद्धि योजना SSY ₹250 से लेकर ₹1.5 लाख तक कर सकते हैं निवेश, मिलेगा 7.6% का सालाना ब्याज

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लाभ:

  • इस योजना का लाभ राज्य के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनने वाले, नाई, सुनार जैसे पारंपरिक कारीगरों तथा हस्तशिल्प की कला रखने वाले को प्रदान किया जाएगा।
  • Vishwakarma Shram Samman Yojana के तहत कारीगरों को ₹10000 से लेकर ₹1000000 तक की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत प्रतिवर्ष 15000 लोगों को रोजगार मिलेगा।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत दी जाने वाली सभी प्रकार की ट्रेनिंग का खर्च राज्य सरकार द्वारा उठाया जाएगा।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में Online Application Form भरने की प्रक्रिया:

  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको सर्वप्रथम इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा या फिर नीचे दी गई लिंक का प्रयोग भी कर सकते हैं।

https://diupmsme.upsdc.gov.in

  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक होम पृष्ठ खुलेगा।
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना

जिसमें आपको राइट साइड में दिखाई दे रहे तीन लकीर वाले मैंन्यू ऑप्शन के अंतर्गत लॉगिन विकल्प पर क्लिक करके उसमें आवेदक लॉगइन का चयन करना होगा।

Vishwakarma Shram Samman Yojana
  • अब आपके सामने जो पेज खुलेगा उसमें आपको नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण विकल्प का चयन करना होगा।
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना Online Application Form
  • नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण का चयन करने के बाद अब आपके सामने नवीन पंजीकरण फॉर्म खुलकर आ जाएगा। इसमें सर्वप्रथम आपको योजना का चयन करना होगा एवं इसके उपरांत आपको बाकी की जानकारी दर्ज करनी होगी जैसे आपका नाम, पिता का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जन्मतिथि, जिला, आदि।
विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना  एप्लीकेशन फॉर्म

अंत में कैप्चा कोड दर्ज कर सबमिट विकल्प का चयन करें। इस प्रकार आपकी नवीन उपयोगकर्ता पंजीकरण की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Vishwakarma Shram Samman Yojana Online Application Form
  • अब आपको लॉगइन डिटेल्स भरकर पोर्टल पर लॉग इन करना होगा। लॉगइन करते ही आपके सामने आवेदन फार्म खुल जाएगा। आवेदन फॉर्म में आपको सभी जानकारी सही-सही दर्ज करनी होगी एवं उसके उपरांत सबमिट के बटन पर क्लिक करें। इस प्रकार आपका विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत एप्लीकेशन फॉर्म भर जाएगा।
यह भी पढ़ें >  फार्म पॉन्ड योजना - Rajasthan Farm Pond Scheme, Raj Kisan Sathi Portal पर करें ऑनलाइन आवेदन

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्न: 

1)Vishwakarma Shram Samman Yojana का प्रारंभ किस राज्य में एवं किसके द्वारा किया गया है?

2) विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना क्या है?

उ- इस योजना के अंतर्गत राज्य के पारंपरिक दस्तकार हस्तशिल्प कारीगरों को 6 दिन की मुफ्त ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी एवं यदि वे खुद का रोजगार प्रारंभ करना चाहते हैं तो ₹10000 से लेकर 1000000 रुपए तक की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।

3) विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का पूरा खर्च किसके द्वारा बाहर किया जाएगा?

उ- इस योजना का पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

Leave a Comment