Byaj Mafi Scheme – मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के किसानों के लिए ब्याज माफी योजना की शुरुआत की है| इस योजना के माध्यम से बकाया न चुकाने वाले डिफॉल्टर किसानों के ब्याज को सरकार दवारा माफ किए जाएगा| क्या है Byaj Mafi Scheme, कैसे मिलेगा इसका लाभ और इसके लिए आवेदन कैसे किया जाएगा| ये सारी जानकारी हम आपको इस लेख के जरिए उपलवध करवा रहे हैं|

byaz mafi yojana mp

Madhya Pradesh Byaj Mafi Scheme

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने प्रदेश के किसानों के ऋण को माफ करने के लिए ब्याज माफी योजना को शुरू करने का ऐलान किया है| इस योजना के माध्यम से जिन किसानों ने बैंकों से ऋण कृषि के लिए लिया था, लेकिन उसे बापिस नही किया, और बैंकों ने उन्हे डिफॉल्टर घोषित कर दिया है| तो ऐसे सभी डिफॉल्टर किसानों का ब्याज मध्य प्रदेश सरकार द्वारा भरा जाएगा। इस योजना से किसान का अधिकतम 200000/- रूपए तक का बकाया ब्याज माफ किया जाएगा| ब्याज माफी योजना से राज्य के 11 लाख 19 हजार किसानों को सीधा लाभ पहुंचेगा| 

Key Highlight Byaj Mafi Scheme

योजना का नाम ब्याज माफी योजना 
किसके दवारा शुरू की गई मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह दवारा 
लाभार्थी प्रदेश के किसान
प्रदान की जाने वाली सहायता किसानों दवारा कृषि के लिए गए ब्याज को माफ करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन / ऑफ़लाइन
आधिकारिक वेबसाइट जल्द शुरू की जाएगी

 

MP ब्याज माफी योजना के लिए महत्वपूर्ण दिनांक 

योजना का विवरण

दिनांक

अधिसूचना जारी करने की तिथि

09 मई 2023

डिफॉल्टर किसानों की सूची जारी करने की तिथि

12 मई 2023

आवेदन फार्म के भरने की आरंभ तिथि

13 मई 2023

दावे-आपत्ति के परीक्षण की तिथि 

16-18 मई 2023

सहकारी बैंकों को ब्याज की राशि ट्रांसफर करने की तिथि

22 मई 2023

आवेदन करने की अंतिम दिनांक 

30 नवंबर 2023

 

byaz mafi yojana

किसानों को जारी किया जाएगा डिफॉल्टर फ्री होने का प्रमाण पत्र 

इस योजना के जरिए जो भी किसान ब्याज माफी योजना के जरिए आवेदन करेंगे, उनका ब्याज प्रदेश सरकार द्वारा भरा जाएगा और ऐसे किसानों को डिफॉल्टर फ्री होने का प्रमाण पत्र सहकारी समिति द्वारा दिया जाएगा।

MP Byaj Mafi Scheme के लिए पात्रता-मानदंड 

  • आवेदक को मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए|
  • केवल किसान ही योजना का लाभ लेने के लिए पात्र होंगे|
  • जो किसान डिफॉल्टर हैं, उन्हे ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा|
  • 31 मार्च 2023 तक के किसानों के ब्याज योजना के तहत माफ किए जाएंगे|

MP ब्याज माफी योजना के लिए जरूरी दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण 
  • लोन के कागजात
  • मोबाइल नम्वर
  • पासपोर्ट साइज फ़ोटोग्राफ 

मध्य प्रदेश ब्याज माफी योजना का उद्देश्य

राज्य के बैंको दवारा डिफॉल्टर घोषित किए गए किसानों के ऋण को सरकार दवारा माफ करके उसका भुगतान भी करना है|

MP ब्याज माफी योजना के लाभ व विशेषताएं 

  • ब्याज माफी योजना को मध्य प्रदेश के किसानों को लाभ प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है|
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के डिफॉल्टर घोषित किए गए किसानों के ब्याज को राज्य सरकार दवारा माफ किया जाएगा|
  • ब्याज माफी योजना से किसानों के अधिकतम 200000/- रूपए तक का ब्याज माफ किए जाने का प्रावधान है|
  • राज्य के 11 लाख 19 हजार किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा|
  • इस योजना से किसानों का मिलाकर कुल 2123 करोड़ रुपये का ब्याज माफ किया जाएगा|
  • योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को अपनी समिति में आवेदन करना होगा|
  • मध्य प्रदेश सरकार द्वारा डिफाल्टर किसानों की सूची 12 मई को बैंक स्तर पर  पोर्टल से जारी की जाएगी|
  • जिस किसान का नाम इस सूची में आएगा, उन्हे ही योजना का लाभ मिलेगा| 
  • MP Byaj Mafi Scheme को पूरे राज्य मे चलाया जाएगा|
  • इस योजना का लाभ पाकर किसान आत्म-निर्भर वनेगे|

How to Apply Online for the MP Byaj Mafi Yojana

लाभार्थीयों की सुविधा के लिए MP Byaj Mafi Yojana के लिए लिंक सक्रिय कर दिया जाएगा, उसके बाद आवेदक इस लिंक पे क्लिक करके घर बैठे आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

Offline Registration For the Madhya Pradesh Byaj Mafi Scheme

  • 12 मई के दिन जब डिफाल्टर किसानों की सूची जारी की जाएगी अगर उस सूची में लाभार्थी का नाम आएगा, तो वह 13 मई से अपनी समिति से आवेदन कर सकता है|
  • आवेदन करने के लिए आवेदक को समिति द्वारा रजिस्ट्रेशन फार्म भरने के लिए दिया जाएगा|
  • इस फॉर्म मे उसे सारी जानकारी दर्ज करनी होगी और आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करना होगा|
  • फिर आपको ये फॉर्म जमा करवा देना होगा|
  • फॉर्म जमा करवाने के बाद आपको योजना का लाभ मिल जाएगा|

MP Byaj Mafi Yojana – Helpline Number

जल्द ही लाभार्थीयों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नमवर भी शुरू किए जाएंगे, ताकि आवेदक दिए गए नम्वर पर फोन करके योजना के वारे मे जानकारी प्राप्त कर सके|